3 मई तक जारी रहेगा लॉकडाउन 2.0, जानिए वो 7 मुख्य बातें जो मोदी ने अपने संबोधन की

दिल्ली। मंगलवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लॉकडाउन को लेकर देशवासियों को संबोधित किया। प्रधानमंत्री मोदी ने अपने संबोधन में लॉकडाउन 2.0 का एलान करते हुए कहा कि अब देश में तीन मई तक लॉकडाउन जारी रहेगा। आपको बता दें कि  कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों ने प्रधानमंत्री मोदी से देश में लॉकडाउन की अवधि सीमा बढ़ाने की अपील की थी।  

3 मई तक जारी रहेगा लॉकडाउन2.0

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि सभी का यही सुझाव है कि लॉकडाउन को बढ़ाया जाए। कई राज्यो के मुख्यमंत्रियो ने तो पहले से ही लॉकडाउन को बढ़ाने का फैसला कर चुके हैं। साथियों, सभी सुझावों को ध्यान में रखते हुए ये तय किया गया है कि भारत में लॉकडाउन2.0 को अब तीन मई तक और बढ़ाना पड़ेगा। यानि तीन मई तक हम सभी को, हर देशवासी को लॉकडाउन में ही रहना होगा। इस दौरान हमें अनुशासन का सख्ती से पालन करना है जैसे हम करते आ रहे हैं।

ये भी पढ़े- जयपुर में कोरोना का एक और बम धमाका, परकोटे में आए 71 नए संक्रमित

प्रधानमंत्री मोदी ने देशवासियों से मांगा सात बातों का साथ

हम धैर्य बनाकर रखेंगे और नियमों का सख्ती से पालन करेंगे तो कोरोना जैसी वैश्विक महामारी को भी हरा पाएंगे। मैं इसी विश्वास के साथ आज आप सबसे सात बातों साथ मांग रहा हूं।

पहली बात- आप अपने घर के बुजुर्ग लोगो का विशेष ध्यान रखेंगे और खासकर ऐसे व्यक्ति जिन्हें कोई पुरानी बीमारी हो तो उनकी हमें  विषेश देखभाल करनी होगी, उन्हें खासकर कोरोना से बहुत बचाकर रखना है।

दूसरी बात– लॉकडाउन और सामाजिक दूरी की लक्ष्मण रेखा का पूरी तरह से पालन करें, घर में बने मास्क का अनिवार्य रूप से आप उपयोग लाएं।

तीसरी बात– अपनी इम्यूनिटी (प्रतिरोधक क्षमता) बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें, गर्म पानी और काढ़ा का निरंतर सेवन करते रहे।

चौथी बात– कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने में मदद करने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल एप जरूर डाउनलोड करें और दूसरों को भी इस एप को डाउनलोड करने के लिए प्रेरित करें।

पांचवी बात– जितना हो सके गरीब परिवारों की देखभाल करें उनके भोजन की आवश्यकताओ की पूर्ति अवश्य करें।

छठी बात– आप अपने व्यवसाय औऱ उद्योग में साथ काम कर रहे लोगों के प्रति संवेदना रखें और किसी को भी नौकरी से न निकालें।

सातवीं बात– देश के हमारे कोरोना योद्धा (डॉक्टर, नर्सों, सफाई कर्मियों और पुलिसकर्मियों) का पूरा सम्मान करें। 

 

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X
error: Content is protected !!