अलविदा इरफान, मुंबई में बॉलीवुड एक्टर इरफान खान का निधन

अलविदा इरफान

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता इरफान खान ने इस दुनिया को अलविदा कह दिया है। इरफान खान की तबीयत पिछले कुछ दिनों से ठीक नहीं थी, जिसके बाद उन्हें मंगलवार को मुंबई स्थित कोकिलाबेन अस्पताल के आईसीयू (ICU) में भर्ती करवाया गया था। आपको बता दें कि मंगलवार को अस्पताल से बात सामने आई थी कि इरफान खान की आंतों में दर्द और सूजन के कारण उनकी तबीयत थोड़ी बिगड़ गई है। इसके साथ ही उनको को सांस लेने में भी तकलीफ हो रही थी। इस बीच अब शूजित सरकार ने इस बात की जानकारी दी है कि बुधवार को अभिनेता का निधन हो गया है।

मुझे तुम पर हमेशा गर्व रहेगा। हम दोबारा मिलेंगे

निर्देशक शूजित सरकार ने ट्वीट करके इस बात की जानकारी दी कि अभिनेता इरफान खान का निधन हो गया है। शूजीत ने ट्वीट किया, मेरा प्यारे दोस्त इरफान, तुम लड़े और लड़े और लड़े, मुझे तुम पर हमेशा गर्व रहेगा। हम दोबारा मिलेंगे। सुतापा और बाबिल को मेरी संवेदनाएं। तुमने भी लड़ाई लड़ी। सुतापा इस लड़ाई में जो तुम दे सकती थीं तुमने सब दिया। ओम शांति, इरफान खान को सलाम।

जयपुर में भी शोक की लहर

जहां इरफान खान के निधन से पूरे देश में शोक है वही, उनके निधन की खबर के साथ ही जयपुर में भी शोक की लहर दौड़ गई है। इरफान खान का जन्म जयपुर में हुआ था और इनके पिता का नाम साहबजादे यासीन अली खान और मां का नाम सईदा बेगम था। उनकी स्कूली शिक्षा जयपुर के सी स्कीम स्थित सेंट पॉल से हुई थी।

इरफान का पूरा नाम (साहबजादा इरफान अली खान)

7 जनवरी 1967 को जन्मे इरफान खान का पूरा नाम साहबजादा इरफान अली खान था। अभिनेता इरफान खान का बचपन टोंक में गुजरा और उनका ननिहाल शाही जामा मस्जिद के पीछे हकीम बुकरात के यहां था और वहीं पर उनका भी मकान था। टोंक की गलियों में दोस्तों के साथ खूब क्रिकेट खेला करते थे।

जयपुर थियेटर से था गहरा नाता

इरफान को बचपन से ही एक्टिंग का बहुत शौक था। उन्होंने जयपुर में ही अपने एक्टिंग करियर की शुरुआत की। उन्होंने रवींद्र मंच ज्वाइन कर लिया और उसके बाद इरफान ने दिल्ली के नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में एक्टिंग को निखारा।

 पद्मश्री सम्मान से भी नवाजा गया

आपको बता दें इरफान ने ‘मकबूल’, ‘लाइफ इन अ मेट्रो’, ‘द लंच बॉक्स’, ‘पीकू’, ‘तलवार’ और ‘हिंदी मीडियम’ जैसी शानदार फिल्मों में काम किया है। उन्हें ‘हासिल’ (निगेटिव रोल), ‘लाइफ इन अ मेट्रो’ (बेस्ट एक्टर), ‘पान सिंह तोमर’ (बेस्ट एक्टर क्रिटिक) और ‘हिंदी मीडियम’ (बेस्ट एक्टर) के लिए फिल्मफेयर अवॉर्ड मिला। ‘पान सिंह तोमर’ के लिए उन्हें नेशनल अवॉर्ड दिया गया था। कला के क्षेत्र में उन्हें देश का चौथा सबसे बड़ा सम्मान पद्मश्री भी मिल चुका है।

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X
error: Content is protected !!